कोट-पैंट में पाएं बेहतरीन लुक, याद रखें कुछ खास बातें


कोट-पैंट या कहें सूट, पुरुषों का फॉर्मल पहनावा है और खास मौकों पर सभी इसे पहनते जरूर हैं। कह सकते हैं कि ढेर सारे लोग ऐसे मौकों का इंतजार करते हैं, जब उन्हें इस जेंटेलमैन पहनावे में खुद को देखने का मौका मिले। यही वजह है कि कोट-पैंट को पुरुषों की स्टाइल से जोड़ा जाता है लेकिन यही स्टाइल बिलकुल फीकी पड़ जाती है, जब काफी पैसे खर्च करने के बाद भी आप पर सूट फब ही नहीं रहा होता है। आपको सूट का बेस्ट लुक मिल ही नहीं पाता है। फिर आपने अपना पसंदीदा सूट भले ही कितनी मेहनत के बाद ढूंढा हो। पर आगे से ऐसा नहीं होगा अगर आप कुछ बेहद बारीक सी बातों का ध्यान रखने लगेंगे। बस खरीद कर पहन लेने वाला फंडा जरा सा किनारे रख दीजिए और कुछ दूसरे फंडे अपने स्टाइल स्टेटमेंट में शामिल कर लीजिए। चलिए इन फंडों पर डालें नजर-

कोट की फिटिंग, आपका हाथ बताएगा


कोट का लुक तब तक बिलकुल भी अच्छा नहीं लगेगा, जब तक इसकी फिटिंग बेस्ट ना हो। पर आपके लिए बेस्ट फिटिंग कैसे पता चलेगी। कैसी होगी वो फिटिंग जो सिर्फ आपकी बॉडी पर खूब जंचेगी। इसमें आपका हाथ आपकी मदद कर देगा। आप अपने हाथ को चेस्ट और सूट जैकेट के बीच रखिए। अब हाथ घूमने के लिए बस थोड़ी जगह होना जरूरी है। अगर यही जगह बहुत ज्यादा है मान लीजिए कि सूट का बेस्ट लुक आपको अभी तक नहीं मिला है। ये सूट आपके हिसाब से बहुत ज्यादा ढीला है।

टाई की लंबाई करे कमाल

सूट का लुक आपकी पर्सनालिटी पर अच्छा लगेगा या नहीं, इसके लिए आपकी टाई भी जरूरी हो जाती है। लेकिन टाई को रंग के हिसाब से मैच कर लेना ही काफी नहीं होता है। बल्कि इसके लिए टाई का आकार और लंबाई को भी फैशन के नजरिए से देखना होगा। ना टाई लंबी होनी चाहिए और ना ही छोटी। टाई की लंबाई को लेकर भी एक फंडा है, जिसे सूट पहनते समय ध्यान रखना चाहिए। याद रखिए टाई की लंबाई पैंट के बेल्ट बकल से ठीक ऊपर या थोड़ा नीचे ही होनी चाहिए। लेकिन ये बेल्ट से बिलकुल नीचे कभी नहीं होनी चाहिए।

लपेल क्या होता है, जान लीजिए

क्या आप जानते हैं कोट के किस हिस्से को लपेल कहते हैं? इस हिस्से का भी टाई से मैच करना बेहतर लुक के लिए जरूरी होता है। और इसी से लुक में एक संतुलन सा आता है। ये कोट के सामने ऊपर की ओर मुड़ा हुआ वाला हिस्सा होता है। कोट की फिटिंग चेक करने के बाद जब टाई का चुनाव करने की बारी आए तो देखिए कि टाई की चौड़ाई लपेल की चौड़ाई से मैच कर रही है या नहीं। सूट पहन कर रॉक करने के लिए इन दोनों की चौड़ाई का संतुलन अच्छे लुक के लिए जरूरी होता है।

कंधों का ख्याल


सूट बनाने वाले टेलर अलग होते हैं। तो ये बात समझी जा सकती है कि इसकी बनावट भी अलग और अनोखी होती होगी। इसी अनोखी बनावट का हिस्सा होते हैं कोट के कंधे। सूट का चुनाव करते हुए इसके कंधों पर आपका ध्यान जरूर होना चाहिए। ये कभी बहुत सख्त नहीं होने चाहिए। कोट के कंधे हमेशा आपके कंधों पर फिट बैठने चाहिए। अगर ऐसा नहीं है तो वो सूट आपके लिए बिलकुल नहीं है। ऐसे में अगर बनवा रहे हों या फिर बना बनाया खरीद रहे हों तो कोट की शोल्डर फिटिंग (shoulders fitting) जरूर चेक कर लें।

टाई का रंग भी समझिए


सूट का ओवरऑल लुक बढ़ाने में टाई बहुत अहमियत रखती है। लंबाई-चौड़ाई का चुनाव कैसे करना है ये तो आपने समझ लिया अब इसके रंगों पर भी बात कर लीजिए। जान लीजिए कि किस रंग की टाई का चुनाव बेस्ट चॉइस (Best Choice) माना जाएगा। आपको एक बेसिक नियम याद रखना है कि टाई का रंग शर्ट के मुकाबले गाढ़ा होना चाहिए। इससे ही लुक में बैलेंस आता है। साथ में टाई और शर्ट का पैटर्न मैच ना करे, इसका ध्यान भी रखना होगा। जैसे चेकर्ड शर्ट है तो इसके साथ बेलबूटेदार टाई ही अच्छी लगेगी।

अनबटन सीख लीजिए


कोट पहन कर बटन बंद करते ही इसका लुक बढ़ जाता है। लेकिन यही बटन बैठते वक्त खोल लेना अच्छा रहता है। अगर बटन खोले बिना बैठेंगे तो कोट में खिंचाव होगा। और बटन भी बाहर को आते महसूस होंगे, जो आपका पूरा लुक ही बिगाड़ देंगे। मीटिंग में आपको इसकी वजह से जरूर अच्छा तो नहीं लगेगा। 

पॉकेट स्क्वायर (pocket square) कैसा हो?

पॉकेट स्क्वायर कोट को एक मैस्क्यलिन (masculine) लुक देता है। लेकिन बेहतर लुक के लिए पॉकेट स्क्वायर का चुनाव भी खास तरीके से किया जाना चाहिए। कभी भी इसे टाई से बिलकुल मैचिंग कलर का ना चुनें। इनका फेब्रिक और डिजाइन भी एक सा नहीं होना चाहिए। बल्कि इनको कांट्रास्ट स्टाइल का रखना अच्छा रहता है। इसके साथ ही ये भी याद रखना जरूरी है कि पॉकेट स्क्वायर का रंग सूट के रंग के हिसाब से भी चुनना है। सिंपल फंडा याद रखिए, अगर सूट डार्क कलर का है तो पॉकेट स्क्वायर हल्के रंग का होना चाहिए और सूट हल्के रंग का है तो पॉकेट स्क्वायर गाढ़े रंग का।

जूते और बेल्ट

सूट के लुक के साथ आपका ओवरऑल लुक कैसा आएगा, इसका जवाब बेल्ट और जूते का चुनाव भी तय करता है। इसलिए इनको मैच करते समय भी कुछ बातें ध्यान रखनी होंगी। आपको ध्यान रखना है कि कलर और फिनिश के हिसाब से जूते और बेल्ट मैच होनी चाहिए। जैसे अगर आपने भूरे लेदर के जूते पहने हैं तो बेल्ट भी भूरी लेदर की हो तो लुक बेहतरीन हो जाएगा।

एक्सेसरीज कित्ती

भले ही आपको एक्सेसरीज पहनने का शौक हो लेकिन सूट पहनने के साथ आपका ये शौक सही नहीं रहेगा। सूट के साथ आपको कम से कम एक्सेसरीज ही पहननी होगी। जैसे अगर आपने टाई बार पहना है तो फिर लपेल पिन बिलकुल ना लगाएं।